Welcome Visitor: Login to the siteJoin the site


Tags: General


In today's world, everything is dramatically changing from old pattern to new. Satyug is becoming Kalyug, read Hindi poem on changing life and values


Submitted:Mar 8, 2013    Reads: 2    Comments: 0    Likes: 0   


mirror-image-green-ball

लेखक आज भी हैं ……बस लिखने की कलम बदल गयी ,
कल जो स्याही थी …….वो आज keyboard में बदल गयी ।

किताबें आज भी हैं ……बस उन्हें पढ़ने की तस्वीर बदल गयी ,
कल जो कागज़ पर होती थी …..वो आज Internet की e -book बन गयी ।

विद्यालय आज भी हैं ……बस उनमे सिखाने की शिक्षा बदल गयी ,
कल जहां सिर्फ विद्या थी …..वहीँ आज प्रतिस्पर्धा की होड़ लग गयी ।

परिवार आज भी हैं ……बस उन्हें निभाने की नियत बदल गयी ,
कल जहाँ ख़ुशी थी …….वो आज नफरत में बदल गयी ।

दोस्ती आज भी हैं ……बस दोस्तों की सूरत बदल गयी ,
कल जो महफ़िल की शान होती थी …..वो आज time -pass बन गयी ।

आशिकी आज भी हैं ……बस आशिकों की आशिकी बदल गयी ,
कल जो मोहब्बत थी …..वो आज Break -Up Party बन गयी ।

शादी आज भी हैं ……बस उस शादी की पहचान बदल गयी ,
कल जिसे निभाने की कसमें थी …….आज उस कसम में दौलत भी मिल गयी ।

पुजारी आज भी हैं ……बस पूजा करने की विधि बदल गयी ,
कल जहाँ भगवान् की मूरत थी ….. आज उस मंदिर में ही रंगशाला खुल गयी ।

मंत्री आज भी हैं ……बस उनकी सियासत बदल गयी ,
कल जो देश को संभाले थे ….. आज उसी देश की बोली लग गयी ।

औरत आज भी हैं ……बस उस औरत की छवि बदल गयी ,
कल जो देवी थी …….वो आज भोगने की वस्तु बन गयी ।

शहर आज भी हैं ……बस उन शहरों की हवा बदल गयी ,
कल जहाँ सभ्यता थी ….. वो आज असभ्य लोगों की जागीर बन गयी ।

देश आज भी हैं ……बस उस देश की परिभाषा बदल गयी ,
कल जिसे "सोने की चिड़िया" कहते थे ….. वो आज "घोटालों की दुनिया" बन गयी ।

युग आज भी हैं ……बस उस युग में काली छाया पड़ गयी ,
कल जो सतयुग था …….वो आज कलयुग की कलुषित मूरत बन गयी ।

सब कुछ आज भी हैं ……बस उसे समझने -समझाने की होड़ लग गयी ,
कल सिर्फ कुछ थोड़े से लोग ज्ञानी थे ….. और आज मूर्खों को भी ज्ञानी की पद्वी मिल गयी ।





0

| Email this story Email this Poetry | Add to reading list



Reviews

About | News | Contact | Your Account | TheNextBigWriter | Self Publishing | Advertise

© 2013 TheNextBigWriter, LLC. All Rights Reserved. Terms under which this service is provided to you. Privacy Policy.